वास्तु शास्त्र एक्सपर्ट

वास्तु शास्त्र एक्सपर्ट

इन्ट्‌यूइटिव वास्तु आचार्य आपके घर की प्लानिंग का आकलन करते हुए आपकी समस्याओं को घर में गलत तरीके से रखी गई वस्तुओं के साथ जोड़ते हैं।
वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने पर्यावरण को संतुलित करने से, जीवन में अधिक ख़ुशी, स्वास्थ्य, समृद्धि एवं ग्रोथ मिलती है।
vastu shastra

जब आप अपने घर या ऑफिस के नक्शे के साथ एक वास्तु आचार्य से मिलते हैं, तो वह आपकी समस्याओं को 16 ज़ोन में होने वाली अक्टिविटीज़, यूटिलिटी और ऑब्जेक्ट के गलत स्थान से जोड़ कर उसका निदान करने में आपकी मदद करता है।

इन्ट्‌यूइटिव वास्तु आचार्य इमारतों में 5 एलिमेंट को बैलेंस करके और बिल्डिंग में कुछ भी तोड़े बिना आसान लेकिन,प्रभावी वास्तु उपायों का सुझाव देने में माहिर होता है । सिम्पल उपायों या वस्तुओं को की जगह करके, आचार्य बिल्डिंग के नेचर के अनुसार बिल्डिंग के बैलेंस कंडीशन में बहाल करने में मदद करते हैं।

vastu shastra experts

वास्तु शास्त्र के सिद्धांतों के अनुसार रहने या काम करने के माहौल को बैलेंस करने से आपको अधिक खुशी, स्वास्थ्य, समृद्धि और ग्रोथ के साथ जीने में मदद मिलती है।

हमारे वास्तु विशेषज्ञ आपकी लाइफ और आपके अवचेतन मन पर आपके घर और ऑफिस (भवन) के प्रभाव को पहचानने के लिए डॉ खुशदीप बंसल द्वारा डेवलप ‘एंगुलर डिवीजन’ दृष्टिकोण और 4 स्टेप मेथड का यूज़ करके काम करते हैं।

यह व्यवस्थित विधि परेशानी और उसका सलूशेन का दृष्टिकोण प्रदान करती है। यह आधुनिक वास्तुकला और लाइफ स्टाइल को बनाए रखते हुए किसी व्यक्ति के जीवन में समृद्धि, खुशी और कामयाबी सुनिश्चित करने के लिए परेशानी के मूल कारण के सही निदान पर ज़ोर देता है। एक बार जब यह चार-चरणीय निदान समस्या के लक्षणों के साथ 100 प्रतिशत मेल खाते हुए पाया जाता है, तभी, इमारत में इच्छाओं की अभिव्यक्ति के लिए प्रासंगिक स्थान को प्रोग्राम करने के लिए प्रयास किए और परीक्षण किए गए वास्तु उपायों की सिफारिश की जाती है।

बिल्डिंग में कोई थोड़फोड़ या बड़ा बदलाव किए बिना, 16 में से एक या अधिक आसानी से लागू होने वाली, साइंटिफिक तकनीक को मनचाहा रिज़ल्ट पाने के लिए प्रयोग किया जाता है। वैसे वास्तु एक आर्ट और विज्ञान ही दोनों है जो आपके मकसद को प्राप्त करने के लिए आपके द्वारा की जाने वाली अक्टिविटीज़ और आपके स्पेस की एनर्जी के बीच ब्लेंस बनाकर, आपको उन लक्ष्यों तक पहुंचने में मदद करती है। आयुर्वेद शरीर के लिए है और योग मन के लिए है, वैसे ही डॉ खुशदीप बंसल द्वारा विकसित महावास्तु समग्र रूप से जीवन के लिए है।

वास्तु विश्लेषण के चार चरण नीचे दिए गए हैं।

  1. एंट्री गेट का इफैक्ट
  2. शक्ति के 16 ज़ोन
  3. पंच तत्वों का प्रभाव
  4. स्पेस प्रोग्रामिंग।
 

एक बार जब वास्तु एक्सपर्ट परेशानी के मूल कारण का सही पता कर लेते हैं, तो ऊपर बताए गए 4-स्टेप की प्रक्रिया का उपयोग करके, वे इसे मनेज करने में माहिर होते हैं। 16 ईज़ी तरीकों की तकनीकों का उपयोग करके, वास्तु एक्सपर्ट आसानी से समस्याओं को बिना तोड़फोड़ का सहारा लिए बिना वास्तु दोषों को ठीक कर सकते हैं।

एक्सपर्ट आपके आस-पास की अनुकूल परिस्थितियों को देखकर मनचाहा परिणाम प्राप्त करने के लिए आपके स्पेस को प्रोग्राम भी कर सकता है।

जीवन में समस्याएं उन क्षेत्रों को दर्शाती हैं जहां आपका ध्यान ज़रूरी है। वास्तु विशेषज्ञ बैलेंस को फिर से शुरू करने और बनाए रखने में मदद करते हुए आपको जीवन में धन, स्वास्थ्य, प्रसिद्धि, सफलता और कई और अधिक आनंददायक अनुभवों की प्राप्ति की ओर ले जाता है।

Life coach
वैदिक लाइफ कोच बनें

टीबीडी 11 आवश्यक शब्द प्रकृति विशेषज्ञ आपको सही भोजन की सलाह देते हैं

ज्ञान संसाधन